bharat ki sabse badi titli ka naam kya hai | भारत की सबसे बड़ी तितली का नाम क्या है

bharat ki sabse badi titli ka naam kya hai | भारत की सबसे बड़ी तितली का नाम क्या है

bharat ki sabse badi titli ka naam kya hai :- नमस्कार दोस्तों कैसे हैं आप लोग आशा करता हूं आप बिल्कुल ठीक होंगे आपका हार्दिक स्वागत है हमारे इस लेख में आज के इस लेख के मदद से हम भारत की सबसे बड़ी तितली का नाम क्या है के बारे में संपूर्ण जानकारी प्राप्त करने वाले हैं।

हम आपकी जानकारी के लिए बता दें कि यह सवाल कई कई बार KBC ( कौन बनेगा करोड़पति ) में पूछा गया है और कई सारे लोग इसका उत्तर नहीं दे पाए हैं तो उन्हीं सभी लोगों का सवालों का जवाब देने के लिए हमने इस लेख को लिखा है तो चलिए शुरू करते हैं इस लेख को बिना देरी किए हुए।

bharat ki sabse badi titli ka naam kya hai | भारत की सबसे बड़ी तितली का नाम क्या है

भारत की सबसे बड़ी तितली का नाम ‘ गोल्डन बर्डविंग ‘ (Golden Birdwing) है

भारत की सबसे बड़ी ​तितली जिसका नाम ‘गोल्डन बर्डविंग’ है वह भारत के राज्य उत्तराखंड में पाई जाती है। हम आपके जानकारी के लिए बता दे कि गोल्डन बर्डविंग नामक तितली के पंखों की लंबाई 194 millimetre तक होती है। भारत की सबसे बड़ी तितली गोल्डन बर्डविंग का विज्ञानिक नाम ” Troides aeacus ” है।

उत्तराखंड के पिथौरागढ़ जिले के डीडीहाट  कस्बे में पहली बार 194 millimetre पंखों वाली मादा ‘ गोल्डन बर्डविंग ‘ तितली पाई गई है।

 दोस्तों यह तितली रंग बिरंगी होने के साथ-साथ यह काफी आकर्षक भी दिखती है यह तकरीबन एक स्केल के बराबर हो सकती है जिसका उपयोग हम लोग गणित बनाने के लिए करते हैं।

इस तितली को भारत की सबसे बड़ी तितली होने का दर्जा जुलाई 2020 को मिला था। 

हम आपको यह भी बता दे कि उत्तराखंड के भीमताल स्थित ‘तितली अनुसंधान केंद्र’ के पीटर स्मेटसेक और युनान में चीनी विज्ञान Academy विश्वविद्यालय की श्रीस्टी पांथी अध्ययन के लेखक हैं। इन दोनों ने ही इस तितली का पता लगया और इस पर शोध किया।

इसी प्रजाति का जो नर तितली होता है वह काफी छोटा होता है उसकी पंखों की लंबाई तकरीबन  106 millimetre तक होता है।

गोल्डन बर्डविंग से पहले भारत की सबसे बड़ी तितली  ‘ Troides Minos ‘ हुवा करती थी ।

तितली के बारे में रोचक तथ्य (facts about butterfly in hindi)

दोस्तों हमने ऊपर के टॉपिक में जाना कि भारत के सबसे बड़े तितली कौन सी है और इस टॉपिक में हम तितली से जुड़ी कुछ रोचक तथ्य के बारे में जानने वाले हैं तो चलिए शुरू करते हैं इस टॉपिक को बिना देरी किए हुए ।

पृथ्वी पर लगभग 28,000 से भी अधिक तितलि के प्रकार पाए जाते हैं। ये अपने खाने को खाने के लिए  उन पर खडे होकर अपने दंको से चखतीं हैं। यह इसलिए क्योंकि इनकी चखने की क्षमता, उनके पैरों, और डंको में होता है।

तितलियों के आकार  और उनका रंग एक दूसरे से अलग होते हैं। इनका (skeleton) यानी कि कंकाल इनके शरीर के बाहर होता है। इस से तितलियों के शरीर में पानी के तत्व की सुरक्षा होती है।

क्या आपको मालूम है कि कुछ तितलियों के प्रकार ज़हरीले भी होते हैं। तितलियों को बस तीन रंग ही नजर आता है जिस में से  लाल, हरा और पीला रंग है।

स्त्री यानी कि मादा तितलियाँ, पुरुष यानी कि नर तितलियों से ज़्यादा बड़े और खूबसूरत होती हैं, और उनसे ज़्यादा भी जीते हैं।

तितलियों को किसी भी प्रकार का आवाज सुनाई नहीं देता है, लेकिन वे अपने शिकारियों के कंपन यानी कि vibration को बहुत अच्छी तरह से पेहचान लेतीं हैं।

हम आपके जानकारी के लिए बता दे कि कुछ तितलियों को सड़े हुए फल खाना पसंद करती है । तितलियों के पंख असल में बिना कोई रंग के होते हैं। उनके कई सारे स्केल्स की कारण से उनके पंख को रंग मिलता है और वो रंग बिरंगे दिखते है।

समान्य रूप से तितलियों का वज़न, 2 गुलाब की पंखुड़ियाँ जितनी या आसान भाषा मे कहे तो दो चावल जितना होता है ।

तितलियाँ, मधुमक्खियों के बाद, सबसे बड़े परागण यानी कि (pollinators) हैं। तितलियाँ अपने पंख से की गई आवाज़ या भनभनाहट से, एक दूसरे के सम्पर्क में रहतीं हैं।

कुछ अन्य तितलियाँ, दूसरों के सम्पर्क में रहने के लिए, एक महक को पैदा करतीं हैं, जिसे दूसरे तितली 2 या 3 कीलोमीटर की दूरी पर सूँघ लेते हैं।

आप ने तितली सर के ऊपर दो एंटीना तो अवश्य देखा होगा , तितली अपने एंटीना से कुछ भी चीज़ को सूँघ सकती है। क्या आपको मालूम है कि कुछ तितलियाँ बड़ी होने के बाद, कुछ भी खाती नहीं हैं, क्योंकि उनके मुँह नहीं होते उनके मुह का छिद्र बन्द हो जाता है।

कई तितलियों के पंख पर काफी आकर्षक और सुंदर पैटर्न होते हैं। इनकी मदद से, तितली फूलों के रंग और रूप में मिल जाते हैं और छिप जाती है। इसके कारण वे अपने शिकारियों से काफी सुरक्षित रहतीं हैं।

क्या आपको मालूम है कि अंटार्टिका एक वो जगह है जहाँ तितली नहीं पाए जाते हैं और एक तितली के 12,000 आँखें होतीं हैं। तितली का एक प्रकार, ऐसा भी है सर्दी से बचने के लिए, एक जगह से दूसरी जगह उड़ता ही रहता है।

यूके में सबसे बड़ी तितली कौन सी है ?

 ” स्वॉलोटेल बटरफ्लाई ” Swallowtail Butterfly यूके की सबसे बड़ी और दुर्लभ तितली है और यह केवल नॉरफ़ॉक ब्रॉड्स में पाई जाती है।

तितली कितने प्रकार की होती है ?

तितली के लगभग 28,000 से भी अधिक  प्रकार होते हैं।

तितली के अंडे कैसे होते हैं ?

हम आपकी जानकारी के लिए बता दें कि तितली के अंडे काफी छोटे और महीन होते हैं तितली एक बार में तकरीबन 250 से 300 अंडे देती है।

तितली फूल पर क्यों बैठती है ?

तितली फूलो पर उसके रस को चूसने के लिए बैठती है ।

तितली के रंग से कवि का क्या आशय है ?

हम आपके जानकारी के लिए बता दे कि तितलियों के रंग से कवि का आशय सांसारिक सुख-भोग एवं सुविधाओं से है।

bharat ki sabse badi titli ka naam kya hai ?

Bharat ki sabse badi titli ka nam Golden Birdwing hai.

विश्व की सबसे बड़ी तितली कौन सी है ?

क्वीन एलेक्जेंड्रा की बर्डविंग, 30 सेमी के पंखों के साथ दुनिया की सबसे बड़ी तितली – आम तितलियों के आकार से कम से कम 10 गुना – 1906 में पापुआ न्यू गिनी में खोजी गई थी। एक सदी से भी अधिक समय बाद, दुनिया की सबसे दुर्लभ प्रजातियों में से एक बन गई है। सबसे संकटग्रस्त।

Watch This :-

Video Source By :- ExtraOrdinary Facts Gyan
   [ आज हमने क्या सीखा ]

दोस्तों इस लेख के मदद से हमने सीखा कि भारत के सबसे बड़े तितली का नाम क्या है उम्मीद करता हूं कि आपको मेरा यह लेख बेहद पसंद आया होगा और आप इस लेख की मदद से वह सभी जानकारी को प्राप्त किए होंगे।

 जिसके लिए आप हमारे वेबसाइट पर आए थे हमने इस लेख में सरल से सरल भाषा का उपयोग करके आपको तितली से जुड़ी जानकारी देने की कोशिश की है और आप सभी पर भी मेरा यह संपूर्ण विश्वास है कि,

आप सभी मेरे इस लेख को ध्यान से पूरे अंत तक पढ़ चुके होंगे और आप हमारे इस लेख को पढ़ करके अवश्य संतुष्ट होंगे इस लेख को पढ़ने के लिए धन्यवाद…

Also Read :-

Leave a Reply

Your email address will not be published.